उत्तर प्रदेश पुलिस का नया प्रयोग कल से 50 पेट्रोल पंपो पर बनाई गई चौकियां पूरी जानकारी हेतु पढ़े।

*अपराध नियंत्रण एवं अपराधियों पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस अधीक्षक बलरामपुर की पेट्रोल पंप सिक्योरिटी स्कीम*


पुलिस अधीक्षक बलरामपुर श्री देव रंजन वर्मा के निर्देशन तथा अपर पुलिस अधीक्षक श्री अरविंद मिश्र केंद्र निर्देशन में यातायात के नियमों का पालन न करने वाले लोगों के विरुद्ध अभियान चलाया गया है ।


इस अभियान में जनपद के 50 पेट्रोल पंपों पर 50 सब इंस्पेक्टर, 50 कॉन्स्टेबल तथा 50 होमगार्ड की ड्यूटी लगाई गई है।


इनका काम यह है कि पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल लेने के लिए आने वाले 2 पहिया तथा चार पहिया वाहनों की विधि अनुसार चेकिंग करेंगे।


यह सुनिश्चित करेंगे कि वाहनों में कोई संदिग्ध वस्तु नहीं है। वह वाहनों के कागजात वह हेलमेट की चेकिंग करेंगे।


यदि वाहन चालक द्वारा यातायात नियमों में कोई अनियमितता बरती गई है या वाहन में कोई संदिग्ध वस्तु बरामद होता है तो तत्काल वाहन का चालान व विधिक कार्यवाही की जाएगी ।


महत्वपूर्ण बात यह है कि दिनांक *25 जून 2019 से जनपद में e-challan* की व्यवस्था शुरू की जा रही है।


पुलिस अधीक्षक महोदय ने बताया कि पेट्रोल पम्प चेकिंग व्यवस्था से लाभप्रद परिणाम सामने आए हैं:


1. अराजक तत्व एवं आपराधिक किस्म के व्यक्ति वाहन चोर लुटेरे आदि जो अपराध करने के फिराक में वाहन का उपयोग कर घूमा करते थे, उन पर काफी हद तक अंकुश लगा है ।


2. लोगों में यातायात /हेलमेट/ तीन सवारी/ सीट बेल्ट को लेकर जागरूकता आई है और वे पेट्रोल पंप जाने से पहले निश्चित करते हैं कि वो इन कमियों के साथ पेट्रोल पंप पर न जाएं।


3. पेट्रोल पंप पर ड्यूटिया लगाने से यह लाभ हुआ है कि यदि कभी अपरिहार्य स्थिति में जब थानों की फोर्स वाहन चेकिंग करती हैं, उसी समय पेट्रोल पंप पर संचालित ड्यूटी भी वाहन चेकिंग करेंगी ।
इस प्रकार से एक समय में लगभग 70 से ज्यादा स्थानों पर चेकिंग हो सकेगी। जिससे आपराधिक तत्वों का मूवमेंट कम होगा। *ये 50 पेट्रोल पंप पुलिस चौकियों या पुलिस पिकेट की तरह काम करेंगे।*


4. पेट्रोल पंप संचालक जब रुपये जमा करने बैंक जाएंगे तो उनकी सुरक्षार्थ ये पुलिसकर्मी उनके साथ जाएंगे।


5. पेट्रोल पंप पर लगी पुलिस ड्यूटिओं की समीक्षा के लिए पुलिस कार्यालय में एक सेल का गठन किया गया है तथा उक्त सेल को एक व्हाट्सएप नंबर दिया गया है । जब ड्यूटिया पेट्रोल पंप पर जाएंगी तो अटेंडेंस सेल्फी उस व्हाट्सएप नंबर पर शेयर करेंगी तथा जब ड्यूटी समाप्त होगी उस वक्त भी एक सेल्फी लेकर उस व्हाट्सएप नंबर पर पोस्ट करना होगा ।


6. दैनिक कार्यवाही भी व्हाट्सएप्प के माध्यम से हर टीम रोज भेजेगी।


7. दिनांक 21 जून 2019 से दिनांक 24 जून 2019 तक चार दिनों में कुल 435 चालान तथा 108 वाहन सीज किए जा चुके हैं ।


भविष्य मे इस व्यवस्था को और भी प्रभावशाली बनाया जायेगा ।


सोशल मीडिया सेल
जनपद बलरामपुर



Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.