मुख्यमंत्री शिकायत हेल्पलाइन में काम करने वालों की ही नही सुनी जाती शिकायत पढ़े पूरी खबर क्या है शिकायत।

*लखनऊ:-*


*मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076 के कर्मचारी सैलरी ना मिलने पर इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के सामने कर रहे हैं 1076 के खिलाफ प्रदर्शन*


मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076 में कार्य करने वाले कर्मचारियों का वेतन ना मिलने पर गुस्साए हुए कर्मचारी प्रदर्शन पर उतर आए-


इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के सामने रोड पर चल रहा कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन-



यह हेल्पलाइन शिकायतकर्ता की परेशानी का जब तक निराकरण नहीं हो जाता तब तक इसका फालोअप करती हैं।इस हेल्पलाइन में दर्ज शिकायत तभी बन्द होगी जब शिकायतकर्ता खुद न कह दे कि उसकी समस्या का समाधान हो गया है।
: इस हेल्पलाइन में शिकायतकर्ता यूपी में किसी भी स्थान से इसके टोल फ्री नंबर 1076 में फोन कर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है।इस काॅलसेन्टर में 500 सीटों की व्यवस्था है जिसमें शिकायत दर्ज करने को स्टाफ 24 घंटे मौजूद रहेगा।
मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में शिकायत सुननेवाली महिलाओ को 24 घण्टे काम करना पड़ता है पर कई महीनो से उन्हें मेहनताना नही दिया जारहा आज खुद उनकी शिकायत सुनने वाला कोई नहीं   है  वो खुद आज बेबस लाचार होकर धरना प्रदर्शन कर रही है । सवाल उठता है जिस योजना को मुख्यमंत्री जी की प्रथमिकता में रखा गया हो वंही के कार्यालय में दम तोड़ रही हैं  योजना ।


Popular posts from this blog

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

ब्रेकिंग न्यूज़:यूपीएसआरटीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुरक्षा बलों हेतु "सुरक्षा उपकरण किट" (1000 फेस मास्क, 1000 दस्ताने और 1000 हैंड सैनिटाइज़र) दान दिये:::---