ब्रेकिंग न्यूज़ एटा::*डीएम, एसएसपी ने यूपी बोर्ड परीक्षा केन्द्रों का लिया जायजा:::---


*सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा नियमित परीक्षा केंद्रों का भ्रमण सुनिश्चित किया जाए-डीएम*
----------------------------------



एटा। जिला मजिस्ट्रेट सुखलाल भारती, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने सोमवार को अपरान्ह में द्वितीय पाली में इंटरमीडिएट की रसायन विज्ञान, नागरिक शास्त्र की आयोजित परीक्षा का केन्द्रों पर पहुंचकर जायजा लिया। डीएम, एसएसपी ने इस दौरान सर्वप्रथम राजकीय कन्या इंटर कॉलेज रामनगर,  राजकीय कन्या इंटर कॉलेज बाकलपुर,  मोहर सिंह इंटर कॉलेज वसुंधरा, उल्फत राय इंटर कॉलेज खेड़ा वसुंधरा में आयोजित परीक्षा का औचक निरीक्षण किया। डीएम ने निरीक्षण के दौरान केंद्र व्यवस्थापको को निर्देश दिये कि परीक्षा केंद्र पर नकल होने की शिकायत नहीं आनी चाहिए , अन्यथा केंद्र व्यवस्थापक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, साथ ही स्टेटिक मजिस्ट्रेट को भी नहीं बख्शा जाएगा। शासन की मंशानुसार हर हाल में नकल विहीन, शांतिपूर्ण ढंग से परीक्षाएं संपन्न होनी चाहिए।  



*डीएम ने इस अवसर पर* स्टेटिक मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि परीक्षा कक्षों में नियमित रूप से भ्रमण किया जाए। यदि किसी केंद्र पर कोई समस्या है तो उसे अधिकारियों के संज्ञान में स्टेट मजिस्ट्रेट द्वारा अवश्य लाई जाए। डीएम, एसएसपी ने इस दौरान परीक्षा  कक्षों में पहुंचकर छात्र, छात्राओं से पूछताछ की, साथ ही उनके आईडी, प्रवेश पत्र भी चेक किए। 



डीएम ने परीक्षा केंद्रों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट से जानकारी लेने के उपरांत यूपी बोर्ड परीक्षा को संपन्न कराने हेतु तैनात किए हुए समस्त सेक्टर मजिस्ट्रेट को कड़े निर्देश दिए हैं कि मंगलवार को प्रथम पाली सहित आगामी परीक्षाओं में नियमित रूप से भ्रमण करें साथ ही परीक्षाओं को नकल भीम संपन्न कराने में अपना भरपूर सहयोग करें यदि किसी सेक्टर में स्टेट द्वारा नियमित भ्रमण नहीं किया जाएगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।



*एसएसपी सुनील कुमार सिंह ने कहा कि* परीक्षा केंद्र की सुरक्षा अति महत्व


पूर्ण है, परीक्षा केन्द्रों पर पुलिस बल द्वारा गंभीरता के साथ अपनी ड्यूटी की जाए। हर हाल में यूपी बोर्ड परीक्षाये पारदर्शी तरीके से संपन्न होने में पुलिस का सहयोग सराहनीय होना चाहिए।



 


 


 


 


 


Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.