उप मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार केशव प्रसाद मौर्य ने कहा आज रात 9 बजे कौन कौन से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बन्द करने है :::----अधिक जानकारी के लिए देखें


लखनऊः 5 अप्रैल 2020
माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 5 अप्रैल रात 9:00 बजे 9 मिनट घरों की लाइट बंद करने का आह्वान किया गया है। जिसको लेकर सोशल मीडिया पर कुछ आशंकाओं को व्यक्त किया जा रहा है कि इससे ग्रिड में अस्थिरता हो सकती है और वोल्टेज में उतार-चढ़ाव हो सकता है जो विद्युत उपकरणों को नुकसान पहुंचा सकता है। ये आशंकाएं गलत हैं।


माननीय प्रधानमंत्री जी ने घरों की रोशनी बंद करने की अपील की है न कि घरों के कंप्यूटर, टीवी, ए.सी., रेफ्रिजरेटर एवं स्ट्रीट लाइट आदि इसके साथ ही अस्पतालों में रोशनी और अन्य सभी आवश्यक सेवाएं जैसे सार्वजनिक उपयोगिताओं, नगरपालिका सेवाओं, कार्यालयों, पुलिस स्टेशनों, विनिर्माण सुविधाओं, आदि पर रहेगी। माननीय प्रधान मंत्री द्वारा दी गई कॉल को बस आवासों में रोशनी बंद करना है।


भारतीय बिजली ग्रिड मजबूत, स्थिर और पर्याप्त व्यवस्था है और मांग में भिन्नता को संभालने के लिए प्रोटोकॉल मौजूद हैं। 


अतः मा. प्रधानमंत्री जी ने लोगों से अपील की है कि वे 5 अप्रैल की रात 9:00 बजे से 9:09 बजे के बीच अपने घर की लाइट बंद करें।


सादर 
केशव प्रसाद मौर्य 
उप मुख्यमंत्री, उ. प्र.सरकार


जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना 
अँधेरा धरा पर कहीं रह न जाए।


नई ज्योति के धर नए पंख झिलमिल, 
उड़े मर्त्य मिट्टी गगन स्वर्ग छू ले, 
लगे रोशनी की झड़ी झूम ऐसी, 
निशा की गली में तिमिर राह भूले, 
खुले मुक्ति का वह किरण द्वार जगमग, 
ऊषा जा न पाए, निशा आ ना पाए
जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना 
अँधेरा धरा पर कहीं रह न जाए। 


सृजन है अधूरा अगर विश्व भर में, 
कहीं भी किसी द्वार पर है उदासी, 
मनुजता नहीं पूर्ण तब तक बनेगी, 
कि जब तक लहू के लिए भूमि प्यासी, 
चलेगा सदा नाश का खेल यूँ ही, 
भले ही दिवाली यहाँ रोज आए
जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना 
अँधेरा धरा पर कहीं रह न जाए। 


मगर दीप की दीप्ति से सिर्फ जग में, 
नहीं मिट सका है धरा का अँधेरा, 
उतर क्यों न आयें नखत सब नयन के, 
नहीं कर सकेंगे ह्रदय में उजेरा, 
कटेंगे तभी यह अँधरे घिरे अब, 
स्वयं धर मनुज दीप का रूप आए
जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना 
अँधेरा धरा पर कहीं रह न जाए।
----------------------
गोपालदास 'नीरज"की यह पंक्तियां  आज के दिन  कहीं ज्यादा ही प्रासंगिक है, ऐसा मानना है उ0प्र0के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य का


Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.