ब्रेकिंग :::==एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे-  STF एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे::==पढें विस्तार से


👉:*बड़ी ख़बर*


विकास दुबे को लेकर आ रही गाड़ी पलटी, विकास दुबे ने भागने की कोशिश की, हिस्ट्री शीटर विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन से कानपुर लेकर आ रही एसटीएफ के काफिले की एक गाड़ी पलटी।सूत्रों के मुताबिक, इस गाड़ी में विकास दुबे भी सवार था।



*विकास दुबे का हुआ एनकाउंटर*


एसटीएफ विकास को लेकर कानपुर आ रही थी,रास्ते मे विकास की गाड़ी पलट जाती है,पुलिस का कहना है कि विकास एसटीएफ की गन छीन कर भागने की थी कोशिश,



विकास की एसटीएफ से हुई गन फाइट हुई,जहां उसका एनकाउंटर कर दिया गया । विकास दुबे को लेकर अस्पताल पहुची एसटीएफ,लाला राजपत राय हॉस्पिटल में विकास दुबे की मौत,अधिकारिक पुष्टि होने का इंतजार।


*डॉक्टरों ने विकास दुबे को मृत घोषित किया*


*पूरे घटनाक्रम पर एक नजर*


कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों का हत्यारा विकास दुबे शुक्रवार सुबह पुलिस एनकाउंटर में मारा गया,विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर ला रही यूपी एसटीएफ की काफिले की गाड़ी आज सुबह दुर्घटनाग्रस्त हो गई,हादसा कानपुर टोल प्लाजा से 25 किलोमीटर दूर हुआ,बताया जा रहा है कि जब गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हुई, उस समय विकास दुबे हथियार छीनकर भाग निकलने की कोशिश की,इसके बाद घटनास्थल पर विकास दुबे और पुलिस के बीच मुठभेड़ हो गई, 


मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल विकास दुबे को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया,कार हादसे में गाड़ी में मौजूद एसटीएफ के दो कर्मचारी भी घायल हुए हैं,घायलों को हैलेट अस्पताल पहुंचाया गया है।


कानपुर पुलिस का बयान 


अवगत कराना है कि थाना चौबेपुर पर दिनांकः 03.07.2020 को पंजीकृत मु0अ0स0 192/20 धारा 147/148/149/302/307/394/120बी भादवि0 व 7 सीएलए एक्ट जो 08 पुलिसकर्मियों के शहीद होने से सम्बन्धित है, में वांछित 5 लाख रु0 का इनामियां अभियुक्त विकास दुबे पुत्र राम कुमार दुबे नि0 बिकरू थाना चौबेपुर कानपुर नगर को उज्जैन, मध्य प्रदेश पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने के पश्चात पुलिस व एसटीएफ टीम द्वाराआज दिनांक 10.07.2020 को कानपुर नगर लाया जा रहा था।


कानपुर नगर भौंती के पास पुलिस का उक्त वाहन दुर्घटना ग्रस्त होकर पलट गया, जिससे उसमें बैठे अभियुक्त व पुलिस जन घायल हो गये। इसी दौरान अभि0 विकास दुबे उपरोक्त ने घायल पुलिस कर्मी की पिस्टल छीन कर भागने की कोशिश की। पुलिस टीम द्वारा पीछा कर उसे घेर कर आत्मसमर्पण करने हेतु कहा गया किन्तु वह नहीं माना और पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत से फायर करने लगा पुलिस द्वारा आत्मरक्षार्थ जबाबी फायरिंग की गयी।


उपरोक्त विकास दुबे घायल हो गया, जिसे तत्काल ही ईलाज हेतु अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज का दौरान अभियुक्त विकास दुबे की मृत्यु हो गयी है।


 


मीडिया सेल 


कानपुर नगर पुलिस


Popular posts from this blog

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

ब्रेकिंग न्यूज़:यूपीएसआरटीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुरक्षा बलों हेतु "सुरक्षा उपकरण किट" (1000 फेस मास्क, 1000 दस्ताने और 1000 हैंड सैनिटाइज़र) दान दिये:::---