ब्रेकिंग::--👉👉एफ0सी0आई0 गोदामों से राज्य सरकार को निर्गत किये जाने वाले खाद्यान्न का विवरण भी राज्य सरकार की ऑनलाईन सप्लाई चेन मैंनेजमेनट सिस्टम से इन्टीग्रेट किया जाये- सचिव, श्री सुधांशु पाण्डेय::==पढें विस्तार से

 


अप्रवासी मजदूरों को चिन्हित कर, उनके राशन कार्ड बना कर, उन्हंे ’वन नेशन वन कार्ड योजना’ के अन्तर्गत आच्छादित किये जायेंउपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय, सचिव ने हापुड़ स्थित भारतीय खाद्य, निगम के सायलो गोदाम, आई0जी0एम0आआई0 रिसर्च इन्स्टीट्यूट का किया निरीक्षण खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा किये जा रहे कार्योें एवं तकनीकी प्रयोगों की सराहना की गयी

लखनऊः 19 जनवरी, 2021

भारत सरकार के उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय, सचिव, श्री सुधांशु पाण्डेय द्वारा महाप्रबन्धक भारतीय खाद्य निगम को निर्देशित किया गया है कि एफ0सी0आई0 गोदामों से राज्य सरकार को निर्गत किये जाने वाले खाद्यान्न का विवरण भी राज्य सरकार की आॅनलाईन सप्लाई चेन मैंनेजमेनट सिस्टम से इन्टीग्रेट किया जाये। साथ ही दिव्यांजन को प्रार्थमिकता के आधार पर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत आच्छादित किये जाने की अपेक्षा की गयी। यह जानकारी प्रदेश के खाद्य आयुक्त श्री मनीष चौहान ने आज यहां दी।

श्री चौहान ने बताया कि सचिव द्वारा विभिन्न प्रान्तों से आये अप्रवासी मजदूरों (ईंट भट्ठों पर काम करने वाले, श्रम विभाग में पंजीकृत, विद्युत पोल्स पर तार खींचने हेतु अन्य प्रदेशों से आने वाले मजदूरों) को चिन्हित कर उनके राशन कार्ड बना कर, उन्हंे ’वन नेशन वन कार्ड योजना’ के अन्तर्गत आच्छादित किये जाने की अपेक्षा की गयी है। इसके अतिरिक्त राईस मिलों के माध्यम से पी0डी0एस0, मिड-डे मील एवं आई0सी0डी0एस0 के अन्तर्गत वितरित होने हेतु चावल का फोर्टीफिकेशन कराये जाने की अपेक्षा भी की गयी।

खाद्य आयुक्त ने बताया कि गत सोमवार को उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय, सचिव ने उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ स्थित भारतीय खाद्य निगम के सायलो गोदाम, आई0जी0एम0आर0आई0 रिसर्च इन्स्टीट्यूट का निरीक्षण किया। इसके साथ ही एक समीक्षा बैठक आहूत की गयी, जिसमें अपर आयुक्त, श्री अनिल कुमार दुबे द्वारा उत्तर प्रदेश के खाद्य तथा रसद विभाग द्वारा किये जा रहे कार्यों यथा आधार सीडिंग, ई-पाॅस के माध्यम से आधार आधारित वितरण, राशन कार्ड मैनेजमेंट सिस्टम, जी0पी0एस0 व्यवस्था, धान खरीद, तकनीकी प्रयोगों से सब्सिडी बचत, आदि के बारे में पावर प्वांइट पे्रजेन्टेशन प्रस्तुत किया गया।

श्री चौहान ने बताया कि सचिव द्वारा खाद्य एवं रसद विभाग, उ0प्र0 द्वारा किये जा रहे कार्योें एवं तकनीकी प्रयोगों की सराहना की गयी। आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से कोरोना महामारी के दौरान भारी मात्रा में सफलतापूर्वक खाद्यान्न वितरण किये जाने की प्रशंसा भी की गयी। 

उन्होंने बताया कि सचिव द्वारा नगर हापुड़ स्थित उचित दर दुकान का स्थलीय निरीक्षण किया गया। दुकान पर प्रदर्शित सूचनाओं एवं सम्बन्धित अभिलेखों के रख-रखाव तथा उचित दर दुकान की लोकेशन एवं साफ सफाई की सराहना की गयी। विक्रेता के यहां से पोर्टेबिलिटी के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त करने वाले उपभोक्ता से वार्ता उपरान्त संतोष व्यक्त किया गया।

Popular posts from this blog

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

ब्रेकिंग न्यूज़:यूपीएसआरटीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुरक्षा बलों हेतु "सुरक्षा उपकरण किट" (1000 फेस मास्क, 1000 दस्ताने और 1000 हैंड सैनिटाइज़र) दान दिये:::---