ब्रेकिंग::--👉👉प्रधानमंत्री ने 24वें राष्ट्रीय युवा उत्सव के अन्तर्गत राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव-2021 को वर्चुअल माध्यम से सम्बोधित किया::==पढें विस्तार से खबर


मुख्यमंत्री कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से सम्मिलित हुए, हमारा युवा खुलकर अपनी प्रतिभा और अपने सपनों के अनुसार खुद को विकसित कर सके, इसके लिए आज माहौल तैयार किया जा रहा: प्रधानमंत्री

नई शिक्षा नीति लागू की गयी है, जो व्यक्ति, निर्माण के माध्यम से राष्ट्र निर्माण करेगी, स्वामी जी की प्रेरणा ने आजादी की लड़ाई को नई ऊर्जा दी, स्वामी विवेकानंद जी ने भारत को उसकी ताकत याद दिलाई और एहसास कराया

प्रधानमंत्री जी के ‘नये भारत’ के संकल्प को साकार करने में युवाओं की विशेष भूमिका है: मुख्यमंत्री, प्रदेश सरकार युवाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए कृत संकल्पित, इसके दृष्टिगत राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाएं व कार्यक्रम संचालित राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव-2021 में उ0प्र0 की सुश्री मुदिता मिश्रा ने प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया

लखनऊ: 12 जनवरी, 2021

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आज स्वामी विवेकानन्द जी की जयन्ती के अवसर पर 24वें राष्ट्रीय युवा उत्सव-2021 के अन्तर्गत राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव-2021 को वर्चुअल माध्यम से सम्बोधित किया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी इस कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से सम्मिलित हुए। इस अवसर पर प्रधानमंत्री जी ने राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव के विजेताओं से संवाद भी किया।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि हमारा युवा खुलकर अपनी प्रतिभा और अपने सपनों के अनुसार खुद को विकसित कर सके, इसके लिए आज एक माहौल तैयार किया जा रहा है। शिक्षा व्यवस्था, सामाजिक व्यवस्था या कानूनी बारीकियां, हर चीज में इन बातों को केन्द्र में रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति लागू की गयी है, जो व्यक्ति निर्माण के माध्यम से राष्ट्र निर्माण करेगी।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि स्वामी जी का मानना था कि शारीरिक और मानसिक ताकत अत्यन्त आवश्यक है। इसके दृष्टिगत वर्तमान सरकार द्वारा ‘फिट इण्डिया मूवमेंट’, योग आदि को प्राथमिकता दी जा रही है। स्वामी जी की प्रेरणा ने आजादी की लड़ाई को नई ऊर्जा दी थी। गुलामी के लम्बे कालखण्ड ने भारत को हजारों वर्षों की अपनी ताकत और ताकत के एहसास से दूर कर दिया था। स्वामी विवेकानंद जी ने भारत को उसकी ताकत याद दिलाई और एहसास कराया। उन्होंने कहा कि आने वाले 25-30 वर्षाें में हम आजादी के 100 वर्ष पूर्ण कर रहे होंगे। आज का युवा निश्चित रूप से उस कड़ी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

प्रधानमंत्री जी ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि वर्ष 2001 में जब गुजरात में भूकम्प आया था, तो कच्छ विकास से काफी दूर चला गया था और लोग वहां से पलायन करने लगे थे। उसी समय की बात है कि जब वे गुजरात के मुख्यमंत्री बने तब उन्होंने वर्ष 2003 में स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट की नींव रखी, जिसमें कई विभागों को सम्मिलित किया गया था। यही मैनेजमेंट वर्ष 2005 में केन्द्र सरकार द्वारा डिजास्टर एक्ट के रूप में लाया गया था। यही डिजास्टर एक्ट आज वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ने में सहायक हो रहा है।

प्रधानमंत्री जी ने विजेताओं के ओजस्वी भाषण के लिए तीनों विजेताओं का अभिनन्दन किया। उन्होंने कहा कि आपके संवाद को ट्विटर हैण्डल पर ट्वीट करूंगा। ज्ञातव्य है कि राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव-2021 में उत्तर प्रदेश की सुश्री मुदिता मिश्रा ने प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी स्वामी विवेकानन्द जी के सपनों को साकार करने के लिए पूरी प्रतिबद्धता से कार्य कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जी के ‘नये भारत’ के संकल्प को साकार करने में युवाओं की विशेष भूमिका है। यह ‘न्यू इण्डिया’ ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना को मूर्त रूप देने के लिए तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि नये भारत के युग निर्माता के रूप में सभी युवाओं को अपनी भूमिका प्रभावी ढंग से निभानी होगी।

मुख्यमंत्री जी ने राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव-2021 में प्रथम पुरस्कार प्राप्त करने वाली उत्तर प्रदेश की सुश्री मुदिता मिश्रा को बधाई देते हुए कहा कि हमारे युवा अपनी प्रतिभा और परिश्रम से देश व प्रदेश का गौरव बढ़ा रहे हैं। प्रदेश सरकार युवाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए कृत संकल्पित है। इसके दृष्टिगत राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाएं व कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। युवा वर्ग को रोजगार के विशेष अवसर सुलभ कराने के लिए ‘मिशन रोजगार’ क्रियान्वित किया जा रहा है।

इस अवसर पर युवा कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री उपेन्द्र तिवारी, अपर मुख्य सचिव युवा कल्याण श्रीमती डिम्पल वर्मा, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद तथा सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Popular posts from this blog

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

ब्रेकिंग न्यूज़:यूपीएसआरटीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुरक्षा बलों हेतु "सुरक्षा उपकरण किट" (1000 फेस मास्क, 1000 दस्ताने और 1000 हैंड सैनिटाइज़र) दान दिये:::---