:ब्रेकिंग:--👉अवैध खनन पर योगी सरकार सख्त 33 जनपदों में सचल जांच दलों का किया गया गठन*::==पढें विस्तार से खबर

*अवैध खनन पर प्रभावी नियंत्रण एवं करापवंचन रोके जाने हेतु 33 जनपदों में सचल जांच दलों का किया गया गठन*

-डाॅ0 रोशन जैकब

लखनऊ, 26 फरवरी 2021

सचिव/निदेशक, भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग उ0प्र0, डाॅ0 रोशन जैकब के निर्देश पर अवैध खनन पर प्रभावी नियंत्रण एवं करापवंचन रोके जाने के उद्देश्य से 33 जनपदों में चिन्हित रूटों पर सचल जांच दलों का गठन किया गया है। 

निदेशक, भुतत्व एवं खनिकर्म विभाग डाॅ0 रोशन जैकब ने बताया कि जनपद हमीरपुर में 07, प्रयागराज, झांसी, बांदा, फतेहपुर, मीरजापुर व महोबा में 03-03 सचल दलों, सहारनपुर, बागपत, बिजनौर, रामपुर, आगरा, सोनभद्र, जालौन व चित्रकूट में 02-02 तथा बरेली, मथुरा, फिरोजाबाद, हाथरस, गाजीपुर, बलियां, आजमगढ, कुशीनगर, प्रतापगढ़, कौशाम्बी, बाराबंकी, बस्ती, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, उन्नाव व ललितपुर में 01-01 सचल जांच दल का गठन किया गया है

डाॅ जैकब ने बताया खनिज वाहनों की जांच हेतु जनपदों को आर0एफ0आई0डी0, हैण्डहेल्ड रीडर मशीन के अलावा सचल दल के उपयोगार्थ आवश्यक अवस्थापना सुविधाओं जैसे लैपटाॅप, इण्टरनेट, कैमरा, प्रिन्टर, पावर बैकअप, साॅफ्टवेयर इत्यादि की व्यवस्था जिले की खनिज न्यास निधि से करायी गयी है। जांच दल दल द्वारा खनिजों के परिवहन की जांच के समय आवश्यक सहयोग प्रदान करने हेतु सम्बन्धित थानों को भी निर्देशित किया गया है।

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.