:ब्रेकिंग:--👉👉प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में वर्ष 2022 तक उ0प्र0 में हर गरीब के पास अपना आवास होगा:::== मुख्यमंत्री

 

मुख्यमंत्री व केन्द्रीय मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी ने गोरखपुर में प्रधानमंत्री आवास योजना के 20 लाभार्थियों को उनके आवास की चाभी व प्रमाण पत्र वितरित किए, मुख्यमंत्री ने सभी लाभार्थियों से आत्मिक संवाद किया


प्रधानमंत्री आवास योजना एक सफलतम योजना, प्रदेश में गत 04 साल में जनता की मांग के अनुरूप पर्याप्त संख्या में आवास उपलब्ध कराए जा रहे शहरी क्षेत्र में 18 लाख तथा ग्रामीण क्षेत्र में 22 लाख आवास दिए गए, प्रधानमंत्री आवास योजना से लाखों लोगों के जीवन में सुखद परिवर्तन लाने में मदद मिली, प्रधानमंत्री आवास योजना में पूरे देश में उ0प्र0 के आंकड़े सर्वश्रेष्ठ: श्री हरदीप सिंह पुरी

प्रधानमंत्री जी ने वर्ष 2022 तक हर भारतीय के पास अपना आवास होने का लक्ष्य रखा

मुख्यमंत्री जी ने केन्द्रीय मंत्री के साथ गोरखपुर में महादेव झारखंडी आवास विकास चौराहे पर अमृत योजना के तहत पड़ रही सीवर पाइप लाइन का निरीक्षण कर निर्माण कार्य की प्रगति की जानकारी ली, परियोजना प्रबंधक को इस कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश

लखनऊ: 28 मार्च, 2021

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज मानबेला, गोरखपुर में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के लाभार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में वर्ष 2022 तक उत्तर प्रदेश में हर गरीब के पास अपना आवास होगा। जीवन की सुगमता में आवास, बिजली, शुद्ध पेयजल, अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं, अच्छी स्कूली शिक्षा, नजदीकी रोजगार की आवश्यकता को पूरा करने की दिशा में केन्द्र व उत्तर प्रदेश की सरकारें तेजी से कार्य कर रही हैं। इसका लाभ भी लोगों को मिल रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी व केन्द्रीय मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के 20 लाभार्थियों को उनके आवास की चाभी व प्रमाण पत्र वितरित किए। इस दौरान मुख्यमंत्री जी ने सभी लाभार्थियों से आत्मिक संवाद किया। उन्होंने लाभार्थियों से पूछा कि अब अपने आवास में रहें, साथ ही उन्होंने कहा बच्चों को स्कूल भेजिए और बेहतर शिक्षा दिलाइये।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना एक सफलतम योजना है। इसमें शहरी क्षेत्र के पात्र लोगों को 2.5 लाख रुपये दिए जाते हैं। 1.5 लाख केन्द्र सरकार देती है और 01 लाख रुपये राज्य सरकार। प्रदेश में गत 04 साल में जनता की मांग के अनुरूप पर्याप्त संख्या में आवास उपलब्ध कराए जा रहे हैं। शहरी क्षेत्र में 18 लाख तथा ग्रामीण क्षेत्र में 22 लाख, कुल 40 लाख आवास दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकारों, अधिवक्ताओं, शिक्षकों आदि के साथ कामगारों को भी आवास की सुविधा से लाभान्वित किया जा रहा है। अब कोई मजदूर फुटपाथ पर सोने को मजबूर नहीं होगा। प्रधानमंत्री आवास योजना से लाखों लोगों के जीवन में सुखद परिवर्तन लाने में मदद मिली है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जल जीवन मिशन भी इसी तरह की महत्वपूर्ण योजना है, जिससे लोगों को शुद्ध पेयजल की सुविधा उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि मानबेला के आंदोलन से जुड़े कई लोग यहां उपस्थित हैं। सबको सम्मानजनक मुआवजा दिया गया है। अब यहां प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1,500 आवास बन गए हैं। यहीं पत्रकारों के लिए भी सस्ते दर पर मकान उपलब्ध कराए गए हैं।

इस अवसर पर केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में पूरे देश में उत्तर प्रदेश के आंकड़े सर्वश्रेष्ठ हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने वर्ष 2022 तक हर भारतीय के पास अपना आवास होने का लक्ष्य रखा है। वर्ष 2014-15 के बीच 01 करोड़ आवास बनाने की जानकारी हुई, जिसे पुनरीक्षित कर 1.12 करोड़ कर दिया गया। जून, 2015 में आरम्भ इस योजना में 1.11 करोड़ आवासों को स्वीकृत कर दिया गया है। श्री पुरी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी के मुख्यमंत्री बनने से पूर्व तक उत्तर प्रदेश में महज 18 हजार पीएम आवास सैंक्शन थे। योगी जी के आने के बाद यह संख्या 12.56 लाख हो गई है। इसमें से सात लाख से अधिक आवास लोगों को दिए भी जा चुके हैं। जो लोग बचे हैं, उन्हें भी जल्द आवास मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि योगी जी ने विकास का शानदार उदाहरण प्रस्तुत किया है।

इस अवसर पर राज्य सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्री श्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नंदी’, सांसद श्री रवि किशन शुक्ल, महापौर श्री सीताराम जायसवाल, विधायक डॉ0 राधामोहन दास अग्रवाल, सुश्री संगीता यादव, मंडलायुक्त श्री जयंत नार्लिकर, जिलाधिकारी के0 विजयेंद्र पांडियन आदि उपस्थित थे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) श्री हरदीप सिंह पूरी के साथ आज गोरखपुर में महादेव झारखंडी आवास विकास चौराहे पर अमृत योजना के तहत पड़ रही सीवर पाइप लाइन का निरीक्षण कर निर्माण कार्य की प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने परियोजना प्रबंधक को शीघ्र इस कार्य को पूरा करने के निर्देश दिए।

ज्ञातव्य है कि अमृत योजना के तहत पाँच वाॅर्डों- महादेव झारखंडी टुकड़ा नम्बर एक, दो, इंजीनियरिंग कॉलेज, झरना टोला और गिरधरगंज में 172 किलोमीटर सीवर लाइन का निर्माण किया जा रहा है। इसके लिए शासन से 235 करोड़ रुपये स्वीकृत हुआ है। इस कार्य की शुरुआत अक्टूबर, 2018 में हुई थी। अब तक 131 किलोमीटर सीवर लाइन का कार्य कराया जा चुका है। इसके पूरा होने पर करीब 14 हजार आवासों को कनेक्शन दिया जा सकेगा

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.