ब्रेकिंग::--👉👉विकास का कोई विकल्प नहीं होता:विकास अपने साथ रोजगार एवं ढेर सारी सम्भावनाओं को लेकर आता::==मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर में लगभग 131 करोड़ रु0 की 25 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास किया. केन्द्र और प्रदेश सरकार के बजट विकास एवं रोजगार को ध्यान में रखकर तैयार किये गये

मुख्यमंत्री ने 09 पटरी व्यवसायियों को वेन्डिंग जोन का लाभार्थी होने का प्रमाण पत्र प्रदान किया. आधारशिला रखी गयी परियोजनाओं को समयबद्ध ढंग से पूरा करने के निर्देश

प्रदेश का कोई भी क्षेत्र विकास से अछूता नहीं, प्रत्येक जनपद, लोक सभा क्षेत्र, विधान सभा क्षेत्र, विकास खण्ड और गांव में विकास का कोई न कोई कार्य अथवा बड़ी परियोजना संचालित हो रही. फर्टिलाइजर कारखाना के प्रारम्भ होने से नये भारत का गोरखपुर दिखेगा

वर्ष 1990 से बन्द खाद कारखाना जुलाई, 2021 तक बनकर तैयार हो जायेगा. शीघ्र ही एम्स पूर्ण रूप से तैयार हो जायेगा, गोरखपुर बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओं के केन्द्र के रूप में विकसित हो रहा, गोरखपुर से प्रमुख महानगरों को हवाई सेवा से जोड़ने का कार्य हुआगोरखपुर एवं कुशीनगर से कहीं भी हवाई यात्रा की जा सकेगी

गोरखपुर में प्लास्टिक पार्क बनेगा, जिससे युवाओं को रोजगार उपलब्ध होगा, आयुष विश्वविद्यालय का निर्माण किया जाएगा, इसी माह गोरखपुर के चिड़ियाघर का लोकार्पण किया जाएगा, रामगढ़ताल पर्यटन के नये केन्द्र बिन्दु के रूप में उभर रहा है, यहां बेहतरीन पार्क उपलब्ध होने के साथ ही अत्याधुनिक प्रेक्षागृह भी बनाया गया

लखनऊ: 05 मार्च, 2021

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि विकास का कोई विकल्प नहीं होता। प्रदेश विकास की ओर निरन्तर अग्रसर है। आज प्रदेश का कोई भी क्षेत्र विकास से अछूता नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछले माह केन्द्र सरकार का बजट आया और 22 फरवरी, 2021 को प्रदेश सरकार ने भी अपना बजट प्रस्तुत किया। केन्द्र और प्रदेश सरकार के बजट विकास एवं रोजगार को ध्यान में रखकर तैयार किये गये हैं। 

मुख्यमंत्री जी आज जनपद गोरखपुर स्थित ब्रह्मलीन महंत दिग्विजय नाथ स्मृति पार्क में आयोजित कार्यक्रम में लगभग कुल 131 करोड़ रुपये की 25 परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास करने के पश्चात अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। मुख्यमंत्री जी द्वारा 7639.29 लाख रुपये की 09 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 5420.12 लाख रुपये की 16 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया। इसके अतिरिक्त, उन्होंने 09 पटरी व्यवसायियों-श्री संतोष, सुश्री शबनम खातून, श्री धर्मेन्द्र गिरि, श्री मुरारी निषाद, श्रीमती मुन्नी देवी, श्री लालमन, श्री राजेश, श्री पवन कुमार तथा श्री अमरदीप मद्धेशिया सहित कुल 250 पटरी व्यवसायियों को वेन्डिंग जोन का लाभार्थी होने का प्रमाण पत्र प्रदान किया।

मुख्यमंत्री जी ने एक साथ 25 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास के लिए जनता को अपनी बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रदेश के अन्दर निरन्तर विकास हो रहा है। हर क्षेत्र में विकास हो रहा है। प्रत्येक जनपद, लोक सभा क्षेत्र, विधान सभा क्षेत्र, विकास खण्ड और गांव में विकास का कोई न कोई कार्य अथवा बड़ी परियोजना संचालित हो रही हैं। उन्होंने विकास की समग्र सोच विकसित किये जाने पर बल देते हुए कहा कि विकास के साथ हर व्यक्ति को जुड़ना होगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे पूर्ण की गयीं परियोजनाओं की गुणवत्ता का भौतिक सत्यापन करंे। उन्होंने कहा कि जिन परियोजनाओं की आधारशिला रखी गयी है उन्हें समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए। निर्माण कार्य में कोई लापरवाही एवं शिथिलता नहीं होनी चाहिए। 

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में कानून का राज है। महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बन से जुड़े कार्याें को तेजी से आगे बढ़ाया जाये। गांव की बेटी, बहन सबकी बहन, बेटी है ऐसा भाव संस्कार समाज में विकसित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोटे की रिक्त दुकानों के संचालन तथा बाल पुष्टाहार वितरण के कार्य महिला स्वयं सहायता समूह को दिया जा रहा है। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों को न्याय पंचायत स्तर पर गोआश्रय स्थल स्थापित किये जाने के सम्बन्ध में कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्ष 1990 से बन्द गोरखपुर का खाद कारखाना जुलाई 2021 तक बनकर तैयार हो जायेगा। इससे जहां किसानों को उत्तम खेती के लिए सस्ती एवं गुणवत्तायुक्त उर्वरक उपलब्ध होगी वहीं युवाओं को रोजगार के व्यापक अवसर प्राप्त हांेगे। उन्होंने कहा कि फर्टिलाइजर कारखाना के प्रारम्भ होने से नये भारत का गोरखपुर दिखेगा।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हम प्रधानमंत्री जी के आभारी हैं कि उन्होंने गोरखपुर जनपद में एम्स निर्माण का शिलान्यास वर्ष 2016 में किया, जिससे गोरखपुर बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओं के केन्द्र के रूप में विकसित हो रहा है। शीघ्र ही एम्स पूर्ण रूप से तैयार हो जायेगा। बी0आर0डी0 मेडिकल कॉलेज में सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक तैयार हो गया है, जिसने कोरोना काल में कोविड हॉस्पिटल के रूप में गोरखपुर एवं पूर्वी उ0प्र0 के लोगों की सराहनीय सेवा की।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि विकास अपने साथ रोजगार एवं ढेर सारी सम्भावनाओं को लेकर आता है। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों के तहत जनपद गोरखपुर में सड़कों के चौड़ीकरण तथा जल निकासी आदि के अनेक कार्य हो रहे हैं। गोरखपुर से प्रमुख महानगरों को हवाई सेवा से जोड़ने का कार्य हुआ है। सड़कों के चौड़ीकरण से सुगम आवागमन एवं समय की बचत होती है। नेपाल राष्ट्र जाने के लिए फोरलेन सड़क, कुशीनगर में अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का निर्माण पूर्ण हो चुका है। गोरखपुर एवं कुशीनगर से कहीं भी हवाई यात्रा की जा सकेगी। गोरखपुर से लखनऊ आवागमन के लिए गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे सहित पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे को विकसित किया जा रहा है, इससे 03 घण्टे में गोरखपुर से लखनऊ की यात्रा की जा सकेगी। उन्होंने बताया कि फर्टिलाइजर कैम्पस में स्किल डेवलपमेन्ट सेण्टर भी स्थापित होगा। गोरखपुर में प्लास्टिक पार्क बनेगा, जिससे युवाओं को रोजगार उपलब्ध होगा। इसके अतिरिक्त, जनपद में आयुष विश्वविद्यालय का भी निर्माण होगा। यह सब विकासपरक सोच से सम्भव हुआ, जिससे गोरखपुर की पहचान बनी है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में गोरखपुर में असीम सम्भावनाएं हैं। गोरखपुर अन्तर्राष्ट्रीय बौद्ध टूरिज्म का केन्द्र बिन्दु है। इसी माह गोरखपुर के चिड़ियाघर का लोकार्पण किया जाएगा। यह प्रदेश का बेहतरीन चिड़ियाघर है, जहां मनोरंजन के साथ लोगों का ज्ञानवर्धन भी होगा। रामगढ़ताल पर्यटन के नये केन्द्र बिन्दु के रूप में उभर रहा है यहां बेहतरीन पार्क भी उपलब्ध होने के साथ ही अत्याधुनिक प्रेक्षागृह भी बनाया गया है। जनपद में बन्द चीनी मिल पिपराइच को प्रारम्भ कर दिया गया है जिसमें 50 हजार कुन्तल गन्ना पेराई की क्षमता हैं।

इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

ज्ञातव्य है कि जिन परियोजनाआंे का मुख्यमंत्री जी द्वारा लोकार्पण किया उसमें 58 लाख रुपये की लागत से मानसिक मंदित आश्रय गृह सह प्रशिक्षण केन्द्र के चहारदीवारी व टाइप-2 आवास का निर्माण, 1416.11 लाख रुपये की लागत से वित्तीय वर्ष 2018-19 में राज्य योजना (सामान्य) अन्तर्गत जनपद में जंगल कौड़िया तुर्कवलिया होते हुए जसवल चौराहा तक मार्ग के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य, 251.28 लाख रुपये की लागत से देवरिया बाईपास मार्ग पर भगत चौराहा के गणपति मैरिज हाल से सेन्ट जेवियर्स पब्लिक स्कूल से कजाकपुर तक कि0मी0 1, 2 (600) में सीसी रोड व नाली निर्माण का कार्य, 499.21 लाख रुपये की लागत से गोरखपुर देवरिया उप मार्ग के कि0मी0 1, 5, 6, 7, 8, 9, 10 (500) में आई0आर0क्यू0पी0 के अन्तर्गत सतह सुधार का कार्य, 1612.95 लाख रुपये की लागत से लोहरपुरवा ठाकुर नगर वी0एम0सी0टी0 तक मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य, 2042.70 लाख रुपये की लागत से केन्द्रीय सड़क निधि योजना अन्तर्गत भटहट माधी बास स्थान मार्ग के कि0मी0 1 से 11.50 मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य, 1376.66 लाख रुपये की लागत से जनपद गोरखपुर में ब्रह्मपुर ब्लॉक मुख्यालय को जोड़ने हेतु चौरी चौरा नई बाजार इटौवा घाट गाबडौर मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य, 239.37 लाख रुपये की लागत से महेवा ट्रान्सपोर्ट नगर पुलिस चौकी के पीछे मॉडल वेन्डिंग जोन का निर्माण कार्य तथा 143.01 लाख रुपये की लागत से हरिओम नगर तिराहा तथा रूस्तमपुर में वेन्डिंग जोन का निर्माण कार्य शामिल है।

इसके अतिरिक्त, मुख्यमंत्री जी ने 16 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं में 115 लाख रुपये की लागत से जनपद गोरखपुर में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के सुदृढ़ीकरण कार्य, 66.96 लाख रुपये की लागत से अघोरपीठ स्थल के पर्यटन विकास एवं सौन्दर्यीकरण के कार्य, 160.02 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड खोराबार के अन्तर्गत कुसुमी जंगल रोड पर स्थित बुढ़िया माई स्थल का पर्यटन विकास एवं सौन्दर्यीकरण कार्य, 75.87 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड सरदार नगर में स्थित शहीद बन्धु सिंह स्मारक स्थल का पर्यटन विकास एवं सौन्दर्यीकरण कार्य, 139.14 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड पिपरौली की ग्राम पंचायत ककराखोर से बरवल सम्पर्क मार्ग का निर्माण, 56.18 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड पिपरौली के अन्तर्गत एन0एच0-29 से जंगल विश्रामपुर तक खडं़जा एवं इन्टरलॉकिंग कार्य, 160.61 लाख रुपये की लागत से एन0एच0-29 जीरो बन्धें से महोब बेतऊवां चनउ पिछौरा जोतमामापर होते हुए टण्डवां मुख्य मार्ग तक पिच मार्ग का निर्माण, 151.41 लाख रुपये लागत से विकास खण्ड जंगल कौड़िया की ग्राम पंचायत मझगावां में 04 लेन व 02 लेन को जोड़ते हुए प्राथमिक विद्यालय होते हुए रेलवे लाइन तक रोड निर्माण कार्य, 100.58 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड खोराबार में मलौनी बांध से परियोजना बांध (लहसड़ी) तक सम्पर्क मार्ग का निर्माण कार्य, 369.37 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड खजनी की ग्राम पंचायत छताई (पोखरा) में महुआडाड़ पाण्डेयपुरा बाबूपुरा होते हुए ग्राम पंचायत धुवहां सम्पर्क मार्ग तक पिच रोड एवं सी0सी0 रोड का नवनिर्माण, 531.30 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड खोराबार की ग्राम सभा डांगीपार से ग्राम सभा डुहिया व ग्राम सभा लहसड़ी टोला भागलपुर विभिन्न सम्पर्क मार्ग का निर्माण कार्य, 338.89 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड खोराबार/पिपरौली के अन्तर्गत ग्राम सभा जंगल सिकरी में ग्राम सभा सिकरी में विभिन्न सम्पर्क मार्ग का निर्माण, 138.22 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड सरदार नगर में एशियन फर्टिलाइजर मार्ग का 5.50 मीटर में सी0सी0 रोड का कार्य, 174.39 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड सरदार नगर में फुटहवा ईनार मार्ग के रेलवे क्रॉसिंग से सरदार नगर स्टेशन तक सी0सी0 रोड निर्माण कार्य, 1471.96 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड ब्रह्मपुर के अन्तर्गत चौरी चौरा गवनार मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य (लम्बाई 9.250 कि0मी0) तथा 1370.22 लाख रुपये की लागत से विकास खण्ड कैम्पियरगंज के अन्तर्गत पीपीगंज अकटहवा कल्यानपुर नवापार मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कार्य (लम्बाई 10.250 कि0मी0) शामिल है।

-------

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.