ब्रेकिंग ==विद्यार्थियों को उनके पिछले प्रदर्शन के आधार पर अगले सत्र के लिए प्रोन्नत कर देना चाहिए:::--एनसीपी


लखनऊ 12 जुलाई 2020।


राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष उमाशंकर यादव ने कहा है कि कोरोना महामारी के मद्देनजर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग(यूजीसी) को परीक्षाएं रद्द कर देनी चाहिए और विद्यार्थियों को उनके पिछले प्रदर्शन के आधार पर अगले सत्र के लिए प्रोन्नति कर देना चाहिए।


श्री यादव ने कहा कि यूजीसी छात्रों में असमंजस की स्थिति पैदा कर रही है। कोरोना ने बहुत लोगों और उनके व्यवसायों को नुकसान पहुंचाया है।


इसके साथ ही साथ स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय के हमारे छात्रों को बहुत कष्ट सहना पड़ा है। कोरोना महामारी के बीच परीक्षाएं कराना पूरी तरह अनुचित है।


उन्होंने बताया कि ‘‘आईआईटी और कई कॉलेजों ने परीक्षा रद्द कर बच्चों को प्रोन्नति दी है, लेकिन यूजीसी भ्रम की स्थिति पैदा कर रही है।’’ उन्होंने कहा कि यूजीसी को विद्यार्थियों की आवाज सुननी चाहिए और परीक्षाएं रद्द कर उन्हें उनके पिछले प्रदर्शन के आधार पर प्रोन्नति देनी चाहिए।


क्योकि हमारे विद्यार्थी ही हमारे महान भारत का भविष्य तय करेंगे ऐसे में उनके स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता। यूजीसी को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।


Popular posts from this blog

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के नियमित, संविदा, और सेवा प्रदाताओं के कर्मचारियों सहित सभी 60 हजार कर्मचारियों को अप्रैल माह का पूर्ण वेतन और मानदेय दिया जाएगा:::~~डॉ राजशेखर प्रबन्ध निदेशक

ब्रेकिंग न्यूज़:यूपीएसआरटीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुरक्षा बलों हेतु "सुरक्षा उपकरण किट" (1000 फेस मास्क, 1000 दस्ताने और 1000 हैंड सैनिटाइज़र) दान दिये:::---