खास खबर ::--👉👉आज विश्व तम्बाकू निषेध दिवस हे स्मोकिंग की लत को छोड़े हर कश में हे मौत, प्लीज...नो स्मोकिंग :==इंजिनियर हया फातिमा,

आज विश्व तम्बाकू निषेध दिवस विशेष👉👉


धूम्रपान न करने वाले लोग यह सोचकर संतोष कर सकते हैं कि वह भारत में तंबाकू का सेवन करने वाले करोड़ों लोगों में शामिल नहीं हैं, उन्हें यह बात भी तसल्ली दे सकती हैं कि वह धूम्रपान करने वालों के आसपास नहीं बैठते इसलिए परोक्ष रूप से धुएं के संपर्क में आकर हर साल जान गंवाने वाले लाखों पैसिव स्मोकर्स में भी शुमार नहीं हैं, लेकिन उन्हें यह बात परेशान कर सकती है कि वह थर्ड हैंड स्मोकिंग के खतरे में हो सकते हैं क्योंकि सिगरेट पीने के घंटों बाद भी वातावरण और सिगरेट के अवशेषों में 250 से ज्यादा घातक रसायन होते हैं.

आम तौर पर सिगरेट पीने वाले और धुएं के सीधे संपर्क में आने वाले लोगों को धूम्रपान के दुष्प्रभाव का सामना करने वालों की श्रेणी में रखा जाता है, लेकिन अब नुकसान का यह दायरा बढ़ गया है. इसमें एक तीसरी कड़ी जुड़ गई है और यह तीसरी श्रेणी है, थर्ड हैंड स्मोकर्स’ की. थर्ड हैंड स्मोकिंग दरअसल सिगरेट के अवशेष हैं, जैसे बची राख, सिगरेट बट, और जिस जगह तंबाकू सेवन किया गया है, वहां के वातावरण में उपस्थित धुंए के रसायन. बंद कार, घर, आफिस का कमरा और वहां मौजूद फर्नीचर, आदि धूम्रपान के थर्ड हैंड स्मोकिंग एरिया बन जाते हैं.

सिगरेट पीते हुए उसकी राख को एशट्रे में झाड़ना, खत्म होने पर सिगरेट के बट को एशट्रे में कुचल देना या बच्चों के आसपास सिगरेट ना पीना दरसअल सिगरेट के नुकसान को कुछ हद तक ही कम कर पाते हैं, पूरी तरह नहीं क्योंकि राख के कण, अधबुझी सिगरेट और धुएं का असर बहुत लंबे वक्त तक वातावरण को प्रभावित करते हैं.

विश्व तम्बाकू निषेध दिवस इंजिनियर हया फातिमा ने अपने पोस्ट कार्ड कलेक्शन जो तंबाकू निषेध पर आधारित है आम जन हेतु पेश किए 👉👉

लखनऊ : सल्तनत मंजिल, निकट सिटी स्टेशन, हामिद रोड, लखनऊ की इंजिनियर हया फातिमा बिटिया नवाबजादा सैय्यद मासूम रज़ा, एडवोकेट के पास "सिगरेट वा तंबाकू नौशी" तर्क करने की बेदारी मुहीम को कामयाब बनाने के मकसद से भारतीय डाक के जरिए जारी अबतक के सभी सिगरेट नोशी के खिलाफ खूबसूरत स्लोगन और मैसेज लिखे मेघदूत पोस्टकार्ड मौजूद है जो हिंदी भाषा के इलावा दूसरे जबानो में जैसे ओरिया, बंगला, तामिल,तेलगु, पंजाबी, कन्नड़ और अंग्रेजी में हैं जिसमे फोटो से लेकर   सलोगन तक लोगों को इस बुरी आदत की लत से रूबरू कराते हैं। 
यह सभी इंजीनियर हया फातिमा के कलेक्सन में मौजूद हैं जिन पर लिखा है अपने शरीर को तंबाकू से होने वाली तकलीफ से बचाएं, यह आपके हाथ में है, तंबाकू का मजा मौत की सजा, सिगरेट मौत के घाट उतार देता है, सिगरेट पीने से कैंसर होता है, अपनी जीवन शैली आपको कैंसर की आगोश में पहुंचा सकती है, तंबाकू को चिबाना बंद करें, मुंह के कैंसर की रोकथाम करें, अब अन्नु अपने पापा से वंचित है, उसके  पापा धूर्म पान करते थें। हर रोज दो हजार से ज्यादा लोग सिगरेट वा तम्बाकू  नोशी से जुड़ी बीमारियों की वजह कर मर जाते हैं। 
इंजिनियर हया फातिमा के इस अनोखे कलेक्शन को सभों ने बेहद पसंद किया और इस बेदारि मुहीम को बेहद सराहा। इन्जिनियर हया फातिमा बताती हैं की यह सभी जानते हैं की तम्बाकू जान लेवा बीमारी है और सिगरेट नोशी की वजह कर कैंसर, दिल की बिमारी, फेंफरे की बीमारी जैसे खतरनाक मर्ज होते हैं। हिंदुस्तान में हर रोज सिगरेट वा तंबाकू नोशी से पूरी दुनिया में हजारों लोगों की जाने चली जाती हैं। 
हमें नौजवान तबका को बेदार करना होगा क्योंकि नौजवान तबका ही कल का हमारा मुस्तकबिल है और मुस्तकबिल  तभी रोशन किया जा सकता है जब हमलोग इस तरफ गहराई से सोचें।  आज हम सभी लोगों को खास कर नौजवानों को यह अहद करना होगा की हम  सिगरेट वा तम्बाकू को जड़ से मिटा देंगे और यह काम बेदारी मुहीम के जरिए ही मुमकिन है।

Popular posts from this blog

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.

लखनऊ में अजीब मामला ::--👉*व्यापारी के बेटे ने 7 लाख खर्च कर थाइलैंड से बुलाया कालगर्ल, कालगर्ल निकली कोरोना पॉजिटिव, लोहिया अस्पताल में इलाज के दौरान कालगर्ल की मौत*::==पढें विस्तार से खबर -