ब्रेकिंग::--👉👉*प्रदेश के 36 जिलों में नहीं मिले कोरोना के एक भी मामले, 133 ऑक्सीजन प्लांट हुए क्रियाशील*::==पढे विस्तार से खबर

 *प्रदेश ने दी कोरोना को मात, यूपी में ट्रिपल टी रणनीति के दिखे सकारात्मक परिणाम*सर्वाधिक आबादी वाले प्रदेश में एक करोड़ टीकाकरण की दी गईंडोज*

*प्रदेश में महज 128 कोरोना संक्रमण के मामले, 305 लोगों ने दी कोरोना को मात*प्रदेश में अब ढाई हजार से कम हुए एक्टिव केस*


*लखनऊ, 04 जुलाई।*  

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर तेजी से काबू पाते हुए योगी सरकार ने अस्‍पतालों को चिकित्‍सीय सुविधाओं से लैस किया है। पहले जहां प्रदेश में ऑक्‍सीजन प्‍लांट, बेडस, एंबुलेंस, वेंटिलेटर, मेडिकल कॉलेजों की संख्‍या न्‍यूनतम स्‍तर पर थी वहीं योगी सरकार ने कोरोना महामारी को नियंत्रित करते हुए प्रदेश में कम समय में चिकित्‍सीय सुविधाओं का तेजी से विस्‍तार किया। ट्रिपल टी की रणनीत‍ि के अनुसार प्रदेश में कोरोना संक्रमण की पहली और दूसरी लहर पर लगाम लगाते हुए सरकार ने संभावित तीसरी लहर से जुड़ी सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। पिछले 24 घंटों में प्रदेश में महज 128 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए इस दौरान 305 लोगों ने कोरोना को मात दी है। प्रदेश में अब केवल 2264 एक्टिव केस ही रह गए हैं।

           प्रदेश में अब तक पांच करोड़ 88 लाख से अधिक कोरोना की जांचें की गई। इसके साथ ही युद्धस्‍तर पर टीकाकरण किया गया जिसके सकारात्‍मक परिणाम सभी को देखने मिले। प्रदेश में रिकवरी रेट बढ़कर अब 98.5 फीसद पहुंच गया है। कोरोना के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस को लेकर सरकार ने पुख्‍ता रणनीति के अनुसार काम कर रही है। अब तक प्रदेश में लिए गए एक भी सैंपल में डेल्‍टा प्‍लस वेरिएंट की पुष्टि नहीं हुई है। इसके बावजूद प्रदेश में डेल्टा प्लस संक्रमण वाले राज्यों से आने वाले लोगों की निगरानी और टेस्टिंग तेजी से की जा रही है। दूसरे राज्यों से सटे जिलों में जीनोम सिक्वेंसिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। बता दें कि लखनऊ के केजीएमयू और वाराणसी के बीएचयू में जीनोम सिक्वेंसिंग की जा रही है।

*यूपी में दी गई एक करोड़ से अधिक वैक्‍सिनेशन की डोज*

 ‘सबका साथ, सबका विकास, मुफ्त वैक्सीन, सबको वैक्सीन’ के मूल मंत्र पर हो रहा टीकाकरण किया जा रहा है। प्रदेश में 18 से 44 साल के आयुवर्ग के लोगों को एक करोड़ से अधिक टीकाकरण की डोज दी जा चुकी हैं। अब तक लोगों को रिकॉर्ड कुल 3,26,00,346 वैक्‍सीन की डोज दी चुकी है। सीएम हेल्पलाइन के जरिए लगातार प्रदेश में प्रधानों, कोटेदारों और आम लोगों से संपर्क स्‍थापित कर कोरोना संक्रमण से बचाव और टीका लगवाने की अपील कर रही है।

*36 जिलों में नहीं मिले एक भी केस*

कोरोना संक्रमण के खिलाफ अपनाई गई रणनीति जमीनी स्‍तर पर रंग ला रही है जिसका परिणाम है कि  36 जिलों में कोरोना संक्रमण के एक भी मामले सामने नहीं आए वहीं 37 जिलों में 10 से कम नए कोरोना के केस दर्ज किए गए।  यूपी ऑक्सीजन उपलब्धता में आत्मनिर्भर हो रहा है प्रदेश में 528 ऑक्‍सीजन प्‍लांट पर तेजी से काम किया जा रहा है जिसमें से अब तक  133 ऑक्सीजन प्लांट प्रदेश में क्रियाशल हो चुके हैं। प्रदेश में ऑक्सीजन जेनरेटर के जरिए 15 फीसदी ऑक्सीजन की 3300 बेडों पर आपूर्ति हो रही है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों से सटे हर जिले में एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र या जिला अस्पताल में ऑक्सीजन जेनरेटर्स लगाए जा रहे हैं।

Popular posts from this blog

लखनऊ में अजीब मामला ::--👉*व्यापारी के बेटे ने 7 लाख खर्च कर थाइलैंड से बुलाया कालगर्ल, कालगर्ल निकली कोरोना पॉजिटिव, लोहिया अस्पताल में इलाज के दौरान कालगर्ल की मौत*::==पढें विस्तार से खबर -

ब्रेकिंग न्यूज:--👉👉यूपी- चित्रकूट जेल में कैदियों में भिड़ंत, फायरिंग, बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के खास मेराज सहित कई की मौत की सूचना,दर्जनों राउंड गोलियां चली ,पूरा प्रशासन जेल के अंदर::==पढें पूरी खबर कब क्या हुआ

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.