:ब्रेकिंग:--👉👉हरदोई में भाग्योदय ग्राम बनाने की रणनीति पर हुई जूम मीटिंग, ग्रामीण विकास मर्मज्ञ आईएएस अफसर डॉ. हीरालाल ने किया प्रधानों का मार्गदर्शन::==पढें विस्तार से

भाजपा राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य राजीव रंजन मिश्र ने की अध्यक्षता, भाग्योदय फाउंडेशन की सार्थक पहल

हरदोई। 'चलो गांव की ओर' के सामूहिक उद्घोष के साथ हरदोई में भाग्योदय ग्राम बनाने हेतु महत्वपूर्ण वेविनार आज सन्ध्याकाल सम्पन्न हुई। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अपर प्रबन्ध निदेशक डॉ. हीरालाल ने जिले के ग्राम प्रधानों एवं ग्रामीण लोकसेवियों का सम्यक मार्गदर्शन किया। मॉडल गांव योजना के अध्यक्ष मुनीश कुमार ने जूम बैठक से जुड़े सभी ग्रामीण प्रतिनिधियों को योजना के सभी पक्षों की जानकारी दी। वरिष्ठ लोकसेवी व भाजपा राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य राजीव रंजन मिश्र की अध्यक्षता वाली आभासी सभा का आयोजन भाग्योदय फाउंडेशन, लखनऊ-नयी दिल्ली द्वारा किया गया था।

भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी डॉ. हीरालाल ने प्रतिभागियों को ग्रामीण विकास की अवधारणा, विकास के क्षेत्र, जनसहयोग की मानसिकता का निर्माण तथा हर ग्रामवासी को विलेज मेनिफेस्टो से जुड़कर अपने गांव को आदर्शोन्मुख विकसित गांव बनाने की प्रेरणा दी और ग्रामीण युवाओं से कहा कि वे करने चुके व्यक्तियों एवं गांवों से सीखें और उन्हें अपनी ग्राम पंचायत में अभिनव तरीकों से क्रियान्वित करें। 

उन्होंने उत्तर प्रदेश एवं कुछ अन्य प्रान्तों में विकसित आदर्श गांव वहां जाकर देखने को कहा। अपर प्रबन्ध निदेशक ने सभा में उठे सवालों के जबाब देकर प्रधानों व ग्रामीण कार्यकर्ताओं की जिज्ञासाओं को शान्त किया तथा हरदोई के प्रधानों को आगे की रणनीति के लिए लखनऊ आमंत्रित किया।

मॉडल गांव योजना के अध्यक्ष मुनीश कुमार ने 'सोच बदलो-गांव बदलेगा" का उद्घोश करते हुए कहा कि डॉ. हीरालाल ने बाँदा के जिलाधिकारी रहते जो 20 नवाचार गांवों में कराये थे तथा भारतीय संविधान द्वारा प्रदत्त समग्र ग्रामीण विकास के 29 सूत्रों पर जो काम किये गए थे, उन्हें हरदोई में भाग्योदय ग्राम स्थापना हेतु आगे आयीं ग्राम पंचायतों में ग्रामीणजन से लागू कराने के प्रयत्न किये जाएंगे। उन्होंने इसके लिए व्यापक जनसहभागिता को जरूरी बताया तथा उसके सरल तरीके भी प्रधानों को बताए।

वेविनार के मुख्य संयोजक एवं भाग्योदय फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं संस्थापक राम महेश मिश्र ने इस बात पर खुशी जाहिर की कि इस वर्चुअल मीटिंग में कृष्णनगरी मथुरा एवं एनसीआर के गाजियाबाद सहित विविध जिलों तथा देवभूमि उत्तराखण्ड के जनपदों से भी ग्राम्य-प्रेमियों ने शिरकत की। सबका मत था कि अब हमें गांवों की ओर लौटना ही होगा। आभासी सभा में नारा दिया गया- सोच बदलो, गांव बदलेगा। गांव बदलेगा तभी देश बदलेगा। सभाध्यक्ष राजीव रंजन मिश्र ने हुईं चर्चाओं पर सन्तोष व प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सभा में निर्णीत हुए बिन्दुओं पर समयबद्ध ढंग से क्रियान्वयन कराया जाएगा। 

उन्होंने समाज के सभी वर्गों एवं शासकीय विभागों से भी राष्ट्रहितैषी काम में सहयोग देने की अपील की। तकनीकी सहयोग लखनऊ से राघवेंद्र कुमार और हरदोई से रियाज अहमद वारिसी ने दिया।

Popular posts from this blog

लखनऊ में अजीब मामला ::--👉*व्यापारी के बेटे ने 7 लाख खर्च कर थाइलैंड से बुलाया कालगर्ल, कालगर्ल निकली कोरोना पॉजिटिव, लोहिया अस्पताल में इलाज के दौरान कालगर्ल की मौत*::==पढें विस्तार से खबर -

ब्रेकिंग न्यूज:--👉👉यूपी- चित्रकूट जेल में कैदियों में भिड़ंत, फायरिंग, बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के खास मेराज सहित कई की मौत की सूचना,दर्जनों राउंड गोलियां चली ,पूरा प्रशासन जेल के अंदर::==पढें पूरी खबर कब क्या हुआ

अपनी निडरता और क्षत्रिय वंश के कारण की यदुवंशीयों का नाम 'अहीर' यादव.